रामायण से जुड़ी ये अनसुनी बाते आपने कभी नहीं सुनी होगी, जबकि रामायण में खुद श्री राम ने बोला है की…

रामायण हिंदू धर्म के पवित्र ग्रंथों में से एक है। रामायण से जुड़े किस्से लगभग हम सबको पता है लेकिन रामायण से जुड़ी कुछ ऐसी अनसुनी बातें भी है जिसे हर कोई नहीं जानता है। जैसे श्री राम जी के छोटे भाई श्री लक्ष्मण जी कैसे 14 साल तक बिना सोए अपने बड़े भाई की सेवा में लगे रहे? वही कैसे देवी सीता बिना अन्न जल ग्रहण के इतने लंबे समय तक जिंदा रही? रामायण से जुड़े कुछ ऐसे ही अनसुने किस्से के साथ प्रस्तुत है आपके समक्ष ये आर्टिकल।

क्या आप यह जानते हैं कि श्री रामचंद्र की एक बहन भी थी जिसका नाम शांता था। सूत्रों की माने तो देवी शांता को श्री राम चंद्र जी की माता कौशल्या ने बचपन में ही अपनी बहन वर्षनी और अंगदेश के राजा गोपद को गोद दे दिया था। यही कारण है कि रामायण में हमें कहीं भी देवी शांता का वर्णन देखने को नहीं मिलता।

ऐसा माना जाता है कि जिस दिन रावण माता सीता का हरण करके उन्हे अशोक वाटिका में लगा था। उसी दिन परम पिता ब्रह्मा ने एक विशेष खीर भगवान इंद्र के हाथों देवी सीता तक पहुंचाई थी। इंद्र ने अपनी शक्ति से देवी सीता के पहरे पर लगे राक्षसों को सुला दिया। जिसके बाद इंद्र ने देवी को वो दिव्य खीर दी जिसे ग्रहण कर देवी सीता की भूख प्यास शांत हो गयी। सूत्रों की माने तो यही कारण है की देवी सीता बिना अन्न जल ग्रहण किया इतने लंबे समय तक रह पाई।

रामायण में पाताल के राजा अहिरावण और उसके भाई महिरावण को बोहोत ही शक्ति शाली असुर बताया जाता है। अहिरावण और उसके भाई महिरावण ने अपनी शक्ति से भगवान श्री राम जी और उनके छोटे भाई श्री लक्ष्मण जी को बंदी बना लिया था।बाद में श्री राम जी को और श्री लक्ष्मण जी को छुड़ाने के लिए श्री हनुमान जी को जाना पड़ा था। इन दोनो भाईयो अहिरावण और महिरावण को मारने के लिए हनुमान जी को पंचमुखी रूप धारण करना पड़ा था।

Sharing Is Caring:
Avatar of Shiv Meena

शिव मीणा पिछले 3 साल से एंटरटेनमेंट, बॉलीवुड, देश–विदेश और ब्लॉगिंग पर लेख लिख रहे है।

Leave a Comment