in ,

सुशांत सिंह राजपूत का स्टन गन से हुआ था म’र्डर, डॉक्टर का दावा, सुब्रमण्यम स्वामी ने NIA जाँच की माँग

दोस्तों सुशांत सिंह राजपूत के केस में रोज रोज नए राज खुल रहे है। अभी एक और खबर सामने आयी है जिसमे दावा किया गया है की कैसे सुशांत सिंह ने सु’साइड नहीं बल्कि उनका किसी ने म’र्डर किया है। इस खबर में पुरे प्रूफ के साथ समझाया गया है। चलिए जानते है, कौन है वो शख्स जिसने यह सब बताया है।

अब एक नया हैरान करने वाला दावा जो सामने आया है, उसके बारे में बताते है। जिसमे कहा जा रहा है, की सुशांत की ह’त्या स्टन गन से की गयी है। इसके बारे में सुशांत के एक चाहने वाले ने ट्विटर पर ट्वीट भी किया है। जिसमे उसने बताया है की स्टन गन के निशान ऐसे ही होते है। जैसे निशान सुशांत की बॉडी पर दिखाई दिए थे।

हम आपको बताने चाहेंगे की इस स्टन गन थ्योरी के बारे में खुद को अमेरिका के इंटरनल मेडिसिन बताने वाले इस शख्स ने भी समझाया है। उन्होंने एक आर्टिकल लिखते हुए बताया की सुशांत के मामले में स्टन गन का स्तेमाल किया गया है।

जिसने उनकी गर्दन पर बायीं और जलने का निशान छोड़ा है। अगर आप गौर से देखे तो आपको उनका आधा चेहरा paralyzed दिखेगा। जो की हाई वोल्टेज की वजह से होता है, जिसके कारण उनके चेहरे का बाया हिस्सा paralyzed हो गया था। इसी कारण से उनकी बायीं तरफ की आँख भी खुली हुई थी।

इसके बाद एक और व्यक्ति ने ट्वीट करके बताया की उन्होंने आज स्टन गन के बारे में पड़ा और पता लगाया की इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है। उसने कहा की – मुझे पता चला की यह गन किस प्रकार के निशान शरीर पर छोड़ता है और सुशांत सिंह राजपूत के निशान भी एक दम वैसे ही है। जैसे एक स्टन गन से होते है।

सुब्रह्मण्यम स्वामी भी ट्वीट करके पूछते है की क्या यह गन अरब सागर की सिमा से लायी गयी है ? या किसी देश ने इसे यहां पर बेजा है? NIA को इसमें जरूर चाँच करनी चाहिए।

अबतक सुशांत सिंह राजपूत के मामले में रोज रोज नयी नयी थ्योरी सामने आ रही है। SSR का मामला बेचिदा होता जा रहा है। आगे की कोई खबर आती है तो हम आपको जरूर बताएंगे।

आप इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे अपने दोस्तों और परिवार के साथ ताकि यह खबर सभी तक पहुंच सके। और हमारे पेज PRIME EXCEL को फेसबुक पर फॉलो करे। और अपने विचार हमे कमेंट सेक्शन में जरूर बताये।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *