“बाप हमेशा बाप होता है” बॉलीवुड और साउथ के विवाद पर सुनील शेट्टी ने महेश बाबू को दिया जवाब?

बॉलीवुड के सुपरस्टार सुनील शेट्टी को दुनियाभर मे जाते है। सुनील शेट्टी भी बडे अभिनेताओ मे से एक है। हिंदी सिनेमा मे उन्होंने एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में बनाई है। और अब फिल्म साउथ बनाम बॉलीवुड को लेकर लंबी बहस हो रही है। और दोनो फिल्म इंडस्ट्री के बीच विवाद चल रहा है। दोनो के बीच विवाद इस लिए है, कि कौन किससे ज्यादा बेहतर है। इसलिए दोनो के बीच जुबानी जंग छिड़ रही है।

दरअसल, साउथ के मशहूर अभिनेता महेश बाबू ने यह बात कही है ,कि बालीवुड उन्हे अफोर्ड नही कर सकता ,वो खुद हिंदी फिल्मो मे अपना कीमती समय बर्बाद नही करना चाहता है। और इसी वजह से नए विवाद का कारण बना हुआ है।जिसके बाद बॉलीवुड ही नही, बल्कि साउथ इंडस्ट्री मे भी तगङी बहस चल रही है। जो अब थमने का नाम ही नही ले रहा।

mahesh babu b 1207210802

दरअसल बाद मे अपनी बात भी रखी थी। महेश बाबू के इस बात से हलचल मच हुई है।और बॉलीवुड अभिनेता सुनील शेट्टी खुद इस विवाद मे कूद गए है।सुनील शेट्टी ने कहा है कि बाप ,बाप होता है।बल्की बॉलीवुड हमेशा बॉलीवुड ही रहेगा ।अगर इंडिया को पहचानेंगे तो बॉलीवुड के हिरोज को पहचान ही लेंगे।दरअसल, उन्होंने हाल ही मे एक इंटरव्यू मे कहा है। कि बालीवुड और साउथ इंडस्ट्री के बीच हो रहा विवाद सोशल मिडिया के कारण हो रहा है। उन्होंने कहा है,कि उनकी कर्मभूमि मुम्बई है।इसलिए उन्हे मुम्बईकर कहा जाता है। बॉलीवुड के अभिनेता सुनील शेट्टी ने कहा है, कि हम भारतीय है। और अगर ओटीटी प्लेट फार्म को देखे तो वहां भाषा नही, बल्कि कंटेंट मैटर करता है।

इसी वजह से बॉलीवुड बनाम और साउथ इंडस्ट्री मे फर्क है।सुनील शेट्टी ने कहा ,कि मेरे लिए परेशानी वाली बात यह है कि हम कही ना कही दर्शक को भूल चुके है।और हमे कंटेंट पर काम करना चाहिए।सुनील शेट्टी ने आगे कहा कि सिनेमा मे हमेशा लोग उनसे यही कहते है, कि सिनेमा हो या ओटीटी ,बाप हमेशा बाप ही रहेगा और फैमिली मेंबर्स, हमेशा फैमिली मेंबर्स ही रहेंगे अगर भारतीय को पहचानेंगे तो बॉलीवुड के हिरोज को तो पहचान ही लेगे।

फिल्म ‘मेजर’ के ट्रेलर के लाॅचिंग पर महेश बाबू से बॉलीवुड मे काम करने को लेकर सवाल किया गया था महेश बाबू ने कहा था कि बॉलीवुड वाले मुझे अफोर्ड नही कर सकते इसलिए वो हिंदी फिल्मो मे काम करके अपना कीमती समय बर्बाद नही करना चाहता।महेश बाबू के दिए गए बयान पर बवाल मचने के बाद उन्होंने सफाई भी दी है।उन्होंने कहा है कि लोग उनकी फिल्मो और दक्षिण भारतीय सिनेमा को बहुत पसंद करते है।उन्हे वही ठीक लगता है उनके करियर मे जो कुछ भी है वो सब साउथ फिल्मो से मिला है।वो सभी भाषाओ का सम्मान करता है।

Sharing Is Caring:
Avatar of Shiv Meena

शिव मीणा पिछले 3 साल से एंटरटेनमेंट, बॉलीवुड, देश–विदेश और ब्लॉगिंग पर लेख लिख रहे है।

Leave a Comment