in

आखिर क्यों डॉक्टर्स ने सुनील दत्त को संजय दत्त की माँ नरगिस को मा’र डालने के लिए बोला था, ऐसी क्या थी वजह?

नरगिस और सुनील दत्त की जोड़ी बॉलीवुड में सबसे बेस्ट कपल में से एक है। नरगिस ने सुनील दत्त को संजय दत्त हर मुशीबत घडी में हौसला देकर अपने परिवार को मजबूत बनाया है। संजू मूवी में हम सबने देखा है की नरगिस एक लम्बे समय से कैंसर से लड़ रही होती है। लेकिन उस समय इसका इलाज काफी दर्दनाक होता था। इसलिए सुनील को दत्त को डॉक्टर्स ने नरगिस को मो’त की नींद सुलाने का सुझाव दिया।

सुनील दत्त और नरगिस की मुलाकात पहली बार एक इंटरव्यू में हुई थी। उस इंटरव्यू में सुनील दत्त को नरगिस जी का इंटरव्यू लेना होता है की लेकिन नरगिस को अपने सामने देखकर सुनील दत्त थोड़े नर्वस हो गए थे। उस समय सुनील दत्त इंटरव्यू में एक भी सवाल नरगिस से नहीं पूछ पाए थे।

उस समय सुनील दत्त रेडियो में RJ का काम किया करते थे। और नरगिस बॉलीवुड की स्टार बन चुकी थी। उसके बाद इन दोनों की दूसरी बार मुलाकात फिल्म दो बीघा जमीन के सेट पर हुई। उस समय सुनील दत्त विमल रॉय से काम मांगने के लिए आये थे। नरगिस को एक बार फिर से सामने देखने पर सुनील दत्त नर्वस हो गए थे।

नरगिस और सुनील दत्त ने एक साथ फिल्म मदर इंडिया में काम किया था। उस फिल्म में सुनील दत्त नरगिस के बेटे का रोल निभा रहे थे। मदर इंडिया फिल्म में ही इन दोनों के बिच दोस्ती हुई थी। और फिल्म की शूटिंग पूरी होने से पहले इन दोस्ती प्यार में बदल गयी। बाद में कुछ साल बाद दोनों ने शादी कर ली।

साल 1981 में नरगिस को कैंसर की बीमारी के बारे में पता चला, उस समय वह बीमारी अपने फाइनल स्टेज में थी। जो अब लाइलाज बन चुकी थी। सुनील दत्त उस समय नरगिस को इलाज के लिए अमेरिका ले गए थे। जहा पर नरगिस की हालत और खराब होने लगी थी और बाद में वह कोमा में भी चली गयी थी।

उस समय कीमियोथेरेपी से नरगिस को असहनीय दर्द का सामना करना पड़ता था। जान नागिस कोमा में थी। उस समय डॉक्टर्स ने सुनील दत्त को नरगिस का लाइफ सपोर्ट सिस्टम बंद करने की सलाह दी, जिससे नरगिस को हमेसा के लिए इस दर्द से छुटकारा मिल जाये।

सुनील सुत्त नरगिस के साथ बहुत प्यार करते थे। वो एक एक पल नरगिस के साथ बिताना चाहते थे। सुनील दत्त की दुवाओ के कारण ही नरगिस जल्दी ही कोमा से उठ गयी थी। और उनकी तबियत भी ठीक होने लग गयी थी। लेकिन कुछ महीनो बाद ही नरगिस की मृत्यु हो गयी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *