in , , ,

दिल्ली, उत्तर प्रदेश और इन राज्य में शादी समारोह पर फिर लगाई पाबंदी, सिर्फ इतने कम लोग शामिल हो सकेंगे विवाह समारोह में

अनुमान के मुताबिक को’विड-19 की लहर शीत ऋतु में फिर से दस्तक दे रही है। कोरोना की वापसी से दिल्ली में को’ह’राम मच रहा है। इसे देखते हुए उत्तर प्रदेश स’रकार सुरक्षा के मद्देनजर एक बार फिर से कदम फूंक-फूंक कर रख रही है। इसी सिलसिले में team11 के साथ मीटिंग में कहा गया कि सार्वजनिक जगहों पर विशेष सतर्कता बरती जाए।

सरकार ने विवाह समारोह में भी सिर्फ 200 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी है, इसलिए राज्य सरकार ने अब विवाह समारोह में मेहमानों की संख्या घटाकर 100 कर दी है। सुरक्षा के लिहाज से समारोह में आए मेहमानों को मास्क पहनना जरूरी है। इसके साथ ही उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी करना होगा।

शादी समारोह में नियम का पालन हो रहा है या नहीं, इस बात का निरीक्षण स्वयं वहां के जिलाधिकारी विवाह स्थल पर जाकर करेंगे या फिर अधीनस्थ अधिकारी को भेजकर निरीक्षण करवाया जाएगा। इसके साथ ही आदेश का पालन भी सख़्ती से करवाया जाएगा।

अगर किसी विवाह समारोह में 100 से ज्यादा मेहमान आते हैं, तो जुर्माना लगाया जाएगा। साथ ही ऐसे लोगों पर कार्यवाही भी की जाएगी, जिन्होंने आदेश का उल्लंघन किया होगा।

ज्ञात हो पहले शादी समारोह में तकरीबन 200 व्यक्ति तक शामिल हो सकते थे लेकिन अब यो’गी स’रकार ने यह संख्या 200 से घटाकर 100 लोगों तक कर दी है। सरकार का निर्देश मिलते ही यह का’नून दिल्ली से सटे आसपास के जिलों में शनिवार से ही लागू हो गया है। गाजियाबाद नोएडा में भी यह व्यवस्था लागू हो चुकी है। इन जगहों के जिलाधिकारीयों ने भी स्पष्ट किया है कि सरकारी आदेश का सख्ती से पालन किया जाएगा। इसके लिए कांटेक्ट ट्रेसिंग तथा सर्विलांस सिस्टम को सुदृढ़ बनाया जाएगा।

शनिवार को हालात की समीक्षा करते हुए प्रदेश के मु’ख्यमं’त्री योगी आदित्यना’थ ने इस व्यवस्था को बनाए रखने व कानू’न का सख्ती से पालन करने के दिशा निर्देश जारी किए।

बता दे बीते 1 अक्टूबर को प्रदेश सरकार ने अनलॉक की गाइडलाइन जारी की थी। उससे सभी ने यह अनुमान लगाया था कि को’विड-19 का दौर शायद अब समाप्ति की ओर है क्योंकि 15 अक्टूबर से शादी व अन्य सामूहिक समारोह में संख्या 100 से बढ़ाकर 200 तक कर दी गई थी, लेकिन ठीक 37 दिन बाद प्रदेश स’रकार ने शादी समारोह में लोगों के शामिल होने की संख्या में फिर से बदलाव करते हुए, संख्या 200 से घटाकर 100 लोगों के शादी में शामिल होने की अनुमति प्रदेश स’रकार ने दी है। शीत ऋतु के दौरान आई करोना कि दूसरी लहर को देखते हुए, प्रदेश स’रकार ने शादी समारोह के लिए यह दिशानिर्देश जारी किए हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *