in

दूल्हे की घटिया डिमांड पर दुल्हन ने सिखाया सबक, यह बात बनी हर जगह चर्चा का विषय…

शादी एक ऐसा पवित्र बंधन है, जिसे मरते दम तक निभाया जाता हैl इसलिए हर व्यक्ति अपने जीवन में एक ऐसा जीवन साथी चाहता है जो मरते दम तक उसका साथ निभाए और उसका पूरा ख्याल रखेंl लेकिन इसके विपरीत कुछ लोग शादी को केवल पैसा कमाने का जरिया समझते हैंl आज भी कई लोग शादी के दौरान दहेज जैसी कुप्रथा का शिकार हो जाते हैंl जिससे कई लड़कियों का घर बसने से पहले ही तबाह हो जाता हैl और कई लड़कियों की जान तक इस कुप्रथा के चलते ले ली जाती हैl जो व्यक्ति दहेज का लोभी होता है, वह लड़की को पैसों के लिए बार-बार परेशान करता हैl दहेज की वजह से कई बार मा’रपी’ट, म’र्ड’र सु’साइड, और तलाक तक की नौबत आ जाती हैl ऐसे में अगर इन दहेज लोभीयों का समाज से बहिष्कार हो, तो इसी में लड़कियों की भलाई होगीl और समाज को इस कुप्रथा का शि’कार होने से बचाया जा सकेगाl

ऐसा ही एक वाकया उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में देखने को मिलाl लड़के वालों ने लड़की को देखा और उनकी शादी तय कर दी गईl शादी के कुछ दिन पहले ही सगाई होने के बाद लड़का लड़की वालों से दहेज की नई-नई डिमांड करने लगाl मां बाप पर बढ़ते बोझ को देखकर दुल्हन ने एक कड़ा कदम उठायाl उसने इस लालची दूल्हे को सबक सिखाने का फैसला कियाl

दरअसल उत्तर प्रदेश के हरदोई के मध्यमवर्गीय परिवार के अजीज अहमद ने अपनी बेटी शाजिया की शादी बरेली के रहने वाले महबूब सैफ़ी से तय की थीl बात पक्की होने के बाद शाजिया और महबूब की सगाई 29 सितंबर को हो गई थीl इनकी शादी 31 दिसंबर को होने वाली थीl जब दोनों पक्षों की बात पक्की हो गईl शादी की सभी तैयारियां लगभग पूरी कर ली गईl लेनदेन को लेकर एक बाइक, नगदी और कुछ सामान की चर्चा हुई थीl लेकिन सगाई के बाद जैसे-जैसे शादी की डेट नजदीक आने लगीl दूल्हे की मांग बढ़ने लगीl अब उनकी नई डिमांड में और ज्यादा नगदी, चार पहिए वाली गाड़ी और अन्य तमाम सामान भी थाl

जैसे ही दुल्हन शाजिया को दूल्हे की इन मांगों के बारे में पता चला, उसने शादी के 1 महीने पहले शादी करने से इनकार कर दियाl इतना ही नहीं शाजिया ने अपने मंगेतर महबूब सैफ़ी के खिलाफ पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराईl बकौल शाजिया, “रोज रोज ऐसे घुट के म’रने से अच्छा है, कि ऐसे दहेज के लालची लोगों के साथ शादी ही ना की जाएl किसी भी लड़कियों को दहेज के लालची लोगों के घर में शादी नहीं करना चाहिएl जो व्यक्ति शुरुआत में ही इतनी मांगे करता हैl वह आगे चलकर भी आपको दुख ही देगाl”

शाजिया ने दहेज लेने वालों से शादी तोड़कर दूसरी महिलाओं के लिए एक शानदार मिसाल कायम की हैl माता-पिता भी शाजिया के इस फैसले से बहुत खुश हैंl

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *