in

Boney Kapoor की इस गंदी हरकत के कारण Sridevi ने उनसे 1 साल तक बात करना बंद कर दिया था…

70 के दशक में श्रीदेवी की कई तमिल फिल्में आई। उस समय निर्माता बोनी कपूर उन्हें देखते थे। बोनी कपूर उन्हें अपनी फिल्मों में लेने के लिए श्रीदेवी के चेन्नई स्थित घर के कई चक्कर काटे।

श्रीदेवी का जन्म 13 अगस्त 1963 को तमिलनाडु में हुआ था। इनके पिता पेशे से एक वकील हुआ करते थे। श्रीदेवी ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत महज 4 वर्ष की उम्र में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट के रूप में की थी।

वर्ष 1983 में फिल्म सदमा तो श्रीदेवी के करियर का टर्निंग प्वाइंट साबित हुई। आलोचक भी दंग रह गए श्रीदेवी की एक्टिंग देखकर। श्रीदेवी को फिल्म सदमा के लिए पहली बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का फिल्म फेयर अवार्ड में नामांकित किया गया।

फिर 1986 में आई नगीना ने तो श्रीदेवी को एकदम से लाइमलाइट में ही ला दिया। यह फिल्म भी सुपर डुपर हिट रही। इसी साल इन्होंने कर्मा और जांबाज फिल्म भी साइन की। फिल्मों में खूबसूरत श्रीदेवी के द्वारा किए गए, गजब अभिनय की खूब तारीफ हुई। दर्शक उनके अभिनय को देखकर दंग रह गए।

यूं तो बॉलीवुड में श्रीदेवी ने अपने करियर की शुरुआत फिल्म सोलवा सावन से की, जोकि उन्होंने 1979 में साइन की थी। लेकिन बॉलीवुड में पहचान उन्हें फिल्म हिम्मतवाला से मिली। इसके बाद वह सिनेमा जगत की मशहूर अभिनेत्रियों में शामिल हो गई।

प्रोड्यूसर बोनी कपूर उनके साथ एक फिल्म करना चाहते थे। वह श्रीदेवी की खुबसुरती पर पूरी इस तरह फ़िदा थे। श्रीदेवी की मां से डेट्स मिलने के बाद बोनी ने 1987 में फिल्म मिस्टर इंडिया के लिए श्रीदेवी को अनिल कपूर के साथ कास्ट किया। यह फिल्म एक साइंटिफिक थ्रीलर फिल्म थी। फिल्म के साथ साथ फिल्म के गाने भी काफी मशहूर रहे। इस फिल्म का गाना हवा हवाई ने श्रीदेवी को एक और नाम दिया वह था- मिस हवा हवाई और फिल्म का दूसरा गाना काटे नहीं कटते दिन और रात तो दर्शकों के दिलों पर छा गया।

इस फिल्म के सुपर डुपर हिट हो जाने के बाद श्रीदेवी बोनी कपूर से काफी खुल गई थी। तभी मौका पाकर बोनी कपूर ने श्रीदेवी से अपने प्यार का इज़हार कर दिया। उन्होंने बता दिया कि वह श्रीदेवी की दीवानगी में पूरी तरह पागल हो चुके हैं।

दरअसल बोनी कपूर पहले से शादीशुदा थे। उनकी शादी मोना कपूर से हो चुकी थी, इसलिए अपने प्रति प्यार का इजहार करते देख श्रीदेवी को बहुत बड़ा झटका लगा और वह रो पड़ी। उन्हें लगा कि बोनी कपूर ने ऐसा कहकर उनका विश्वास तोड़ा है इसलिए उन्होंने 8 महीने तक बोनी कपूर से बात भी नहीं की।

फिर एक दिन श्रीदेवी की मां की तबीयत अचानक बिगड़ गई। उस स्थिति में बोनी ने उनका पूरा साथ दिया। जिसका श्रीदेवी पर बहुत बड़ा प्रभाव पड़ा। और 1996 में उन्होंने निर्माता बोनी कपूर से शादी कर ली। बोनी कपूर से उनकी दो बेटियां जाह्नवी और खुशी हैं।

भले ही आज श्रीदेवी हमारे बीच नहीं हैं लेकिन उनकी यादें आज भी हम सबके दिलों में ताजा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *