in

Amitabh Bachchan के खिलाफ हुई FIR जानिए पूरी खबर…

महाराष्ट्र के एक बी’जेपी विधा’यक ने बॉलीवुड के सुपरस्टार अमिताभ बच्चन और कौन बनेगा करोड़ पति के निर्माताओं पर हिन्दू ध’र्म को ठेस पहुंचाने के लिए पु’लिस में शि’कायत दर्ज करवाई है और कारवाई करने की मांग की है।

लातूर जिले के औसा से बी’जेपी विधा’यक अभिमन्यु पवार ने लातूर के SP निखिल पिंगले को एक शिकायत में कहा है की अमिताभ बच्चन सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविज़न के खिलाफ शुक्रवार के एपिसोड पर करवाई होनी चाहिए। पवार ने अपने 2 पेज की शिकायत को पुलिस अधिकारी को पोस्ट करते हुए कहा- हिन्दुओ का अपमान करने और सदभाव में रहने वाले बौद्धो और हिन्दुओ के बिच कलह करने की कोशिश की गयी थी।

इस एपिसोड में अमिताभ बच्चन के सामने हॉट सीट पर सामाजिक कार्यकर्ता Bezwada Wilson और अभिनेता Anup Soni थे। उनसे जब 6 लाख 40 हज़ार के लिए सवाल पूछा गया। 25 दिसंबर 1927 को, डॉ बी आर अंबेडकर और उनके अनुयायियों ने, किस धर्मग्रंथों की प्रतियां जलाई गयी थी? जिसके ऑप्शन थे, A- विष्णु पुराण, B- श्रीमद्भगवद्गीता, C- ऋग्वेद, D- मनुस्‍मृति।

अमिताभ बच्चन ने तब कहा की, 1927 में अंबेडकर ने प्राचीन हिन्दू ग्रंथ मनुस्‍मृति को जलाया था। जो जातिगत भेदभाव और छुवाछुत को उचित ठहराता है। पंवार ने अपनी शिकायत में कहा है की यह सभी 4 विकल्प हिन्दू धर्म से जुड़े हुए है। यह तय है की इस सवाल से हिन्दुओ की भावनाओ को आहत करना था।

पवार ने आगे कहा- यह सवाल यह संदेश फैलता है की हिन्दू धार्मिक गर्न्थो हिन्दू और बौद्ध धर्म के लोगो के बिच दुश्मनी को बड़वा दे रहा है। KBC के इस एपिसोड ने कुछ लोगो को नाराज़ किया। जिन्होंने इस शो को वामपंथी प्रोपोगेंडा चलाने का आरोप लगया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *