गांव में बा’ढ़ आ जाने के बाद सोनू सूद ने घर और किताबे दिलाने का किया वादा

0
96

सोनू सूद ने lockdown में लोगो की इतनी मदद की और अभी भी कर रहे है, लोग अब उन्हें रियल लाइफ हीरोबोलने लग गए है। Lockdown में इन्होने कई लोगो को घर बेजा है, तो किसी के घर ट्रेक्टर बेजा है। इस बार इन्होने आदिवासी बच्ची की मदद की है। छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले की एक कोमला गांव की लड़की है।

इस गांव में एक लड़की रहती है जिसका नाम अंजलि है। अंजलि 12वीं पास है, और प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी कर रही है। सोशल मीडिया पर अंजलि का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमे वो रोती हुई दिखाई दे रही है।

दरअशल बात ये है की, 15-16 अगस्त की रात को आये बाढ़ के पानी से, अंजलि का घर बर्बाद हो गया। बांस की टोकरी में रखी हुई अंजलि की किताबे भी खराब हो गयी।

इस वीडियो में अंजलि किताबो को सहेजते हुए रोते हुए दिख रही है। देर रात करीब 3.30 कोमला गांव में अचानक पानी भरने लगा। अंजलि ने अपने परिवार के साथ 5 Km अपने गांव से दूर दूसरे गांव में शरण ली। अंजलि के पिता एक किसान है। उनके मुताबिक उनकी आधी फसल बर्बाद हो गयी।

वीडियो वायरल होते होते होते सोनू सूद तक पहुंची, तो उन्होंने मदद का वादा कर दिया। सोनू सूद के ट्वीट करने के बाद जिला प्रशाशन और स्थानीय विधायक सामने आ गए।

कुछ हफ्ते पहले भी सोनु सूद ने एक महिला की मदद की थी। हैदराबाद की मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने वाली 26 साल की शारदा को co-vid 19 और lockdown के चलते। अपनी नौकरी गवानी पड़ी। अपना घर चलाने के लिए उसे सब्जी बेचनी पड़ रही थी।

यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हुई और सोनू सूद तक पहुंची फिर सोनू सूद ने उस महिला की भी मदद की थी।

इस खबर को सभी तक शेयर करे और आप इस बारे में क्या सोचते है। हमे कमेंट करके निचे जरूर बताये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here