in

मिल्खा सिंह को अपनी फिल्म भाग मिल्खा भाग के लिया मिला था सिर्फ 1 रुपये का नोट, जानिए इसके पीछे की वजह

मिल्खा सिंह पूरे विश्व में फ्लाइंग सिख के नाम से जाना जाता है। मीका सिंह को यह नाम पाकिस्तान के राष्ट्रपति फील्ड मार्शल अयूब खान ने उन्हें तब दिया था जब उन्होंने पाकिस्तान के एथलीट अब्दुल खालिक को पाकिस्तान में ही हराया था। मिल्खा सिंह को पूरे भारत में बच्चों से लेकर बूढ़े सभी जानते थे।

मिल्खा सिंह का शुक्रवार देर रात निधन हो गया था। मिल्खा सिंह की उम्र 91 वर्ष थी। मिल्खा सिंह को वैसे तो पूरे भारत में सभी जानते थे लेकिन 2013 में मिल्खा सिंह के ऊपर बनी फिल्म भाग मिल्खा भाग के बाद से लोगों को उनको पूरी जिंदगी के बारे में पता चला कि कैसे और कहां से उन्होंने शुरू किया था।

मिल्खा पहले ऐसे एथलीट थे जिन्होंने आजादी के बाद भारत को पहला गोल्ड मेडल दिलवाया था। भाग मिल्खा भाग फिल्म के मेकर्स ने बताया कि हम मिल्खा सिंह को अपनी कहानी लोगो को बताने का मौका हमें देने के लिए कुछ खास गिफ्ट देना चाहते थे।

काफी दिनों तक इस विषय में विचार करने के बाद हमने उन्हें ₹1 का नोट गिफ्ट करने की सोची। इस ₹1 के नोट की खास बात यह थी कि यह नोट सन 1958 में ही छपा था। इस नोट की खास बात यह थी की यह नोट आजाद भारत का पहला नोट प्रिंट हुआ था।

मिल्खा सिंह के बारे में यह जानकारी पढ़कर आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताइये और इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले। अगर आपके हमारे लिए सवाल या सुझाव है तो आप हमें ईमेल कर सकते है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *