in

‘भाभी जी घर पर है’ को अभी नहीं छोड़ना चाहती अंगूरी भाभी, इस शो के बारे में कहा की वो….

शिल्पा शिंदे को रिप्लेस कर के अंगूरी भाभी का किरदार निभाने वाली शुभांगी अत्रे किसी परिचय की मोहताज नहीं. उनका कहना है कि अंगूरी भाभी का किरदार मिलना उनके लिए किसी आशीर्वाद की तरह है. उनका एक डायलॉग ‘सही पकड़े हैं’ तो दर्शकों की जबान पर छाया हुआ है.

भाभी जी घर पर हैं कि सेट पर उन्होंने अंगूरी भाभी का जो किरदार निभाया है, उससे वह सब की फेवरेट बहू बनकर उभरी है. उन्होंने अपनी मासूम अदाओं और शानदार अभिनय से सबको अपना दीवाना बनाया है. शुभांगी अत्रे ने इस शो को 2016 में शिल्पा शिंदे को रिप्लेस करके ज्वाइन किया था.

 

प्राप्त खबर के अनुसार, भाभी जी घर पर हैं, को अनिता भाभी याने के ‘सौम्या टंडन’ पहले ही शो से अलविदा कह चुकी हैं और तब दर्शक इस बात से दुखी थे कि उनकी फेवरेट अंगूरी भाभी यानी शुभांगी अत्रे भी कुछ दिनों के लिए इस शो से दूर हो रही थी.

दरअसल उनकी हेयर ड्रेसर कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी. जाहिर सी बात है कि शुभांगी अत्रे अपने हेयर ड्रेसर के संपर्क में आई होंगी इस वजह से वह शो के सभी लोग काफी डर गए थे तब शुभांगी अत्रे ने भी खुद को कुछ दिनों के लिए क्वारंटाइन किया था और शुभांगी अत्रे की एक छोटी बच्ची है, जिसे लेकर वह कुछ ज्यादा ही गंभीर है उन्होंने कहा कि सेट पर कुछ लोग करोना पॉजिटिव पाए गए ऐसे में छोटे बच्चे का साथ होना और करोना के खतरे के साथ घर वापस लौटना बहुत मुश्किल है.

हालांकि करोना संक्रमण से बचाव के लिए शो के सेट पर हर सीन के बाद सैनिटाइज किया जाता है. कॉमन एरिया तब सैनिटाइज होता है जब हम लोग उस दिन का शूट खत्म कर लेते हैं. सेट पर कुछ लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने से हम लोग काफी डरे हुए है लेकिन सेट पर सभी सावधानियां बरती जा रही हैं. फिर भी जब मैं घर वापस जाती हूं तो अंदर जाने से पहले मैं खुद को अच्छी तरह से सैनिटाइज करती हूं. उसके बाद ही अपनी बेटी के साथ समय बिताती हूं.

बकौल शुभांगी ‘अंगूरी भाभी’ का किरदार मेरे बहुत करीब है और दर्शक भी इस किरदार को खूब पसंद करते हैं. यह मुझे एक अलग फीलिंग देता है. इस समय में चुलबुली अंगूरी भाभी के किरदार के हर शॉट को इंजॉय कर रही हूं. इसलिए मैंने डिलीवरी के बाद इस शो में कुछ समय बाद फिर से वापसी की.

वह आगे कहती हैं हालांकि “मां बनने के बाद,  दोबारा उसी फॉम  में वापस आना थोड़ा मुश्किल होता है. बेटी ‘आशी’ के जन्म के बाद स्क्रीन पर वापसी करना उनके लिए बहुत मुश्किल रहा. मैं एक वर्कहोलिक ( कामकाजी) महिला हूं और मुझे घर पर खाली बैठना बिल्कुल पसंद नहीं. प्रेगनेंसी के दौरान जब मैं घर पर आराम कर रही थी,  तो मैं अंगूरी भाभी के सेट को बहुत मिस कर रही थी. मैं काम करती रहूंगी फिर वह टेलीविजन का हो या फिल्म का. जब तक ऑडियंस मेरे काम की सराहना करती रहेगी,  तब तक मैं बराबर काम करती रहूंगी.  मुझे ‘अंगूरी भाभी’ के किरदार से बहुत प्यार है. यह किरदार मेरे दिल के बहुत करीब है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *